घोड़े जैसी ताकत पाने के लिए रोज खाना शुरू कर दो यह बीमारियों और बुढ़ापे को दूर रखता है। Almond Benefits in hindi

दोस्तों बादाम खाने के फायदे हम सभी जानते हैं। लेकिन बादाम को किस तरीके से खाना चाहिए, कितनी मात्रा में खाना चाहिए और बादाम से होने वाले जो फायदे होते है। बह क्या-क्या होते हैं। इस बारे में हमें जानकारी नहीं होती है। तो आज हम इस पोस्ट में आपको बताएंगे कि कैसे बादाम को खाना सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है, और क्या-क्या इसके फायदे होते हैं। तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं। दोस्तों बादाम में अधिक मात्रा में न्यूट्रिशंस और मिनिरल्स पाए जाते हैं जैसे प्रोटीन, ओमेगा-3, फैटी एसिड, विटामिन, कैल्शियम, फास्फोरस, ज्यादा मात्रा में पाए जाते हैं। इसीलिए यह बहुत सारी समस्याओं को दूर करने में और हमारे शरीर को तंदुरुस्त बनाने में बहुत ज्यादा फायदेमंद होते हैं। बहुत सारे लोगों का यह मानना है, कि बादाम को चबा चबा कर कच्चा खाना चाहिए। लेकिन कच्चे खाने से भी ज्यादा फायदेमंद तब होता है। जब बादाम को रात भर भिगोकर अगले दिन उसका छिलका उतारकर खाली पेट खाया जाए।

जानते हैं, दोस्तों क्या है, इसका प्रोसेस और बादाम के फायदे अगर बात करें दोस्तों पाचन तंत्र को अच्छा करने की, तो इसके लिए बादाम को भिगोकर खाया जाता है। तो यह आसानी से पच जाता है। कच्चे बादाम भी फायदेमंद होते है। लेकिन कच्चा बादाम हर कोई पचा नहीं सकता है। जिसकी वजह से कई बार हमें बादाम खाने से पेट में गड़बड़ हो जाती है। या लुसमोशंस तक भी लग जाते हैं। तो अगर आप का पाचन तंत्र थोड़ा कमजोर है। तो फिर आपको बादाम को भिगोकर ही खाना चाहिए और इसके साथ-साथ इसका फायदा यह होता है। कि यह हमारी जो पाचन की पूरी प्रक्रिया है। उसको सही तरीके से चलाता है और पेट को एकदम स्वस्थ रखता है। इसके साथ-साथ दिमाग के लिए भी भीगा हुआ बादाम खाना बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है। डॉक्टर का यह मानना है। अगर कोई व्यक्ति 4-6 बादाम का हर रोज सेवन करता है, तो उसकी मेमोरी तेज होती है, और नर्वस सिस्टम ठीक तरीके से काम करता है।

बादाम में फैटी एसिड्स भी मौजूद होते हैं। जो विटामिन ई की वजह से शरीर में मौजूद कोलेस्ट्रोल को कम करता है। ब्लड में अच्छे सेल की मात्रा को बढ़ाता है। तो कोलेस्ट्रॉल लेवल को मेंटेन करने के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होते है। रात को भिगोकर सुबह छिलका उतारकर बादाम को खाना भी काफी अच्छा माना जाता है। भीगे बादाम में मौजूद प्रोटीन पोटेशियम और मैग्नीशियम हमारे दिल को स्वस्थ रखने के लिए बहुत ही जरूरी होते हैं। इसके अलावा इसमें ढेर सारे एंटीऑक्सीडेंट गुण होने की वजह से यह हार्ट की खतरनाक बीमारियों को भी दूर करता है। ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है। भीगे हुए बादाम में ज्यादा पोटेशियम और कम मात्रा में सोडियम होने की वजह से यह ब्लड प्रेशर को सही करता है, और दूसरी हार्ट से जुड़ी हुई समस्याओं को नियंत्रित करता है। इसमें मौजूद मैग्नीशियम की वजह से यह ब्लड के सरकुलेशन को सही तरीके से चलाता है।
जो हमारे शरीर में एक्स्ट्रा चर्बी  होती है। उसको भी कंट्रोल करता है। और कम करता है। इसलिए यह वजन कम करने के लिए भी फायदेमंद होता है। अगर आप मोटापे से परेशान हैं। अपना वजन कम करना चाहते हैं, तो आपकी डाइट में भीगे बादाम को जरूर शामिल करें। कब्ज को दूर करने के लिए भीगे हुए बादाम का सेवन करने से आपको कब्ज की समस्या नहीं होती, क्योंकि बादाम में अधिक मात्रा में फाइबर होता है जिसकी वजह से आपका पेट अच्छी तरीके से काम करता है और यह इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है। कई सारी स्टडी के अनुसार बादाम में मैक्रोबायोटिक गुण होते हैं। जो इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। यह आंतों में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया के निर्माण को बढ़ाता है। जिससे ऐसी कोई बीमारी नहीं होती जिसका असर आपकी आंखों पर पड़े अगर आप जल्दी बूढ़ा होने से बचना चाहते हैं। तो यह हमारी त्वचा की एजिंग प्रॉपर्टीज को दूर करता है। स्किन से झुर्रियों को दूर करने के लिए कोई और चीजें इस्तेमाल करने की वजह आपको भीगा हुआ बादाम जरूर खाना चाहिए।

सुबह सुबह भीगे हुए बादाम का सेवन करने से चेहरे पर झुर्रियां नहीं पड़ती और आपकी त्वचा एकदम स्वस्थ रहती है, और दोस्तों इसका सेवन कितना करना है, और कैसे करना है। आप इसका सेवान शुरू शुरू में कर रहे हैं। तो 3 से 4 बादाम रोज सुबह-सुबह खा सकते हैं। और जब आप 1 महीने तक रूटीन में आपके आ जाते हैं। तो उसके बाद आप 4  से 6 बादाम भी  रोज खा सकते हैं। कोशिश करें कि आप भीगे हुए बादाम  ही खाएं। आप ऐसा भी कर सकते हैं, कि आप रात को बादाम भिगोकर रख दे और अगले दिन उसे दूध के साथ खा सकते हैं। नाश्ते के बाद भी खा सकते हैं। आप इसे सुबह जब मर्जी खा सकते हैं। बस आपको इसकी मात्रा का ध्यान जरूर रखना पड़ेगा। आपका पेट जितने ज्यादा बादाम  पचा सकता है, उतने  बादाम ही खाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *